September 25, 2022
Spread the love

चीन के सरकारी मीडिया के अनुसार, चीन के कैबिनेट ने बुधवार को 100,000 से अधिक अधिकारियों के साथ एक आपातकालीन बैठक की, क्योंकि शीर्ष नेताओं ने देश के कड़े कोविड -19 प्रतिबंधों से प्रभावित अर्थव्यवस्था को स्थिर करने के लिए नए उपायों पर चर्चा करने का आग्रह किया था।

सरकारी न्यूज़ एजेंसी ग्लोबल टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, राज्य परिषद द्वारा अप्रत्याशित वीडियो टेलीकांफ्रेंस में प्रांतीय, शहर और परिषद स्तरों के अधिकारियों ने भाग लिया। इस मीटिंग में सरकार उच्च पदस्थ अधिकारी भी मौजूद थे, जिनमें प्रीमियर ली केकियांग (प्रीमियर – प्रधानमंत्री) भी शामिल थे, जिन्होंने अधिकारियों से नौकरियों को बनाए रखने और बेरोजगारी को कम करने के लिए कार्रवाई करने का आग्रह किया।

इस साल मार्च में एक कोविड की लहर फैलने के बाद से दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था को विभिन्न क्षेत्रों में नुकसान उठाना पड़ा है, जिससे कई प्रमुख शहरों में लॉकडाउन के उपाय किए गए हैं – विशेष रूप से चीन की वित्तीय केंद्र शंघाई, जहां लोग डेढ़ महीने तक अपने घरों या आस – पड़ोस को छोड़ने में असमर्थ रहे हैं।

ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, ली केकियांग ने कहा कि कुछ पहलुओं में, इस साल मार्च और अप्रैल में देखा गया आर्थिक प्रभाव कोरोना वायरस के प्रारंभिक प्रकोप (2020 के समय) के दौरान से अधिक हो गया है। उन्होंने बेरोजगारी दर, कम औद्योगिक उत्पादन और कार्गो परिवहन सहित कई समस्याओ की ओर इशारा किया।

प्रीमियर ली हाल के हफ्तों में आर्थिक मंदी के बारे में तेजी से मुखर हो गया है |

प्रीमियर ली केकियांग

निवेश बैंक (Investment banks) इस साल चीन की अर्थव्यवस्था के लिए अपने पूर्वानुमान घटा रहे हैं। इस सप्ताह की शुरुआत में, UBS ने बीजिंग की सख्त शून्य-कोविड नीति (zero-Covid policy) के जोखिमों का हवाला देते हुए अपने पूरे साल के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्धि के अनुमान को घटाकर 3% कर दिया। जबकि चीन ने कहा है कि उसे इस साल लगभग 5.5% की वृद्धि की उम्मीद है। दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था ने पिछले साल 8.1% और 2020 में मात्र 2.3% की वृद्धि दर्ज की थी जो दशकों में उसकी सबसे धीमी गति थी ।

33 नए आर्थिक उपाय लेने की योजना

ये टेलीकांफ्रेंस सोमवार को राज्य परिषद की कार्यकारी बैठक के बाद आती है, जहां अधिकारियों ने सरकार के स्वामित्व वाले समाचार आउटलेट सिन्हुआ (Xinhua) के अनुसार, टैक्स रिफंड बढ़ाने, छोटे व्यवसायों को ऋण देने और सबसे अधिक नुकसान पहुंचे विमानन उद्योग को आपातकालीन ऋण प्रदान करने सहित 33 नए आर्थिक उपायों का अनावरण किया।

33 नीतियों में से कई जगह कोविड के प्रतिबंधों में भी ढील दी – जैसे कि कम जोखिम वाले क्षेत्रों से यात्रा करने वाले ट्रकों पर प्रतिबंध हटाना आदि शामिल है |

बुधवार की बैठक में प्रीमियर ली ने सरकारी विभागों से मई के अंत तक उन 33 उपायों को लागू करने का आग्रह किया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ (Xinhua) के मुताबिक, राज्य परिषद इन नीतियों को लागू करने की निगरानी के लिए गुरुवार से 12 प्रांतों में टास्क फोर्स भेजेगी।

कोविड महामारी के दौरान, चीन ने एक सख्त शून्य-कोविड नीति का पालन किया है जिसमे सभी प्रकार के आवागमन पर रोक, अनिवार्य क्वारंटाइन, सामूहिक कोविड परीक्षण और सख्त लॉकडाउन शामिल है |लेकिन इस रणनीति को अत्यधिक संक्रामक ऑमिक्रॉन वेरिएंट द्वारा चुनौती दी गई है, जो इस साल की शुरुआत में जिलों और राज्यों की सीमाओं को बंद करने के बावजूद देश भर में तेजी से फ़ैल गया था।

अमेरिकी न्यूज़ एजेंसी CNN के आंकड़ों के अनुसार, इस साल मई के मध्य तक, चीन के 30 से अधिक शहर पूर्ण या आंशिक रूप से बंद थे, जिससे देश के 220 मिलियन (22 करोड) लोग प्रभावित हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.