September 25, 2022
Earthquake: लखनऊ, सीतापुर समेत कई जगह भूकंप के झटके किए गए महसूस, 5.2 तीव्रता से आया भूकंप

Earthquake: लखनऊ, सीतापुर समेत कई जगह भूकंप के झटके किए गए महसूस, 5.2 तीव्रता से आया भूकंप

Spread the love

Earthquake: उत्तर प्रदेश में लखनऊ और सीतापुर समेत कई जिलों में देर रात भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किए गए हैं. बता दें की, नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) ने बताया कि शनिवार तड़के लखनऊ के उत्तर-पूर्वोत्तर में रिक्टर पैमाने पर 5.2 तीव्रता का भूकंप आया.

उत्तर प्रदेश में आया भूकंप

ANI से मिली जानकारी  के मुताबिक, भूकंप (Earthquake) विज्ञान के लिए राष्ट्रीय केंद्र ने ट्वीट करके कहा है की, “तीव्रता का भूकंप: 5.2 20-08-2022, 01:12:47 IST, अक्षांश: 28.07 और लंबा: 81.25, गहराई: 82 किमी, स्थान: लखनऊ, उत्तर प्रदेश के 139 किमी एनएनई पर आया है”

इससे पहले शुक्रवार को उत्तराखंड के पिथौरागढ़ इलाके में हल्के झटके महसूस किए गए थे. जो रिक्टर पैमाने पर 3.6 तीव्रता के भूकंप की चपेट में आया. भूकंप दोपहर 12:55 बजे आया था.

एनसीएस ने ट्वीट करके जानकारी दी की, “परिमाण का भूकंप: 3.6, 19-08-2022, 12:55:55 IST, अक्षांश: 29.96 और लंबा: 80.12, गहराई: 5 किमी, स्थान: 43 किमी एनएनडब्ल्यू पिथौरागढ़, उत्तराखंड पर आया.”

एनसीएस ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के हेनले गांव के दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में रिक्टर पैमाने पर 3.1 तीव्रता का एक और भूकंप आया है. बता दें की, अभी तक जानमाल के किसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है. झटकों के चलते लोगों की नींद खुल गई और लोग घरों से बाहर निकल आए.

उत्तराखंड में भी आया भूकंप

शुक्रवार को उत्तराखंड के पिथौरागढ़ इलाके में हल्के झटके महसूस किए गए थे. जिसकी तीव्रता 3.6 थी. एनसीएस ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के हेनले गांव के दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में रिक्टर पैमाने पर 3.1 तीव्रता का एक और भूकंप आया था.

एक तरफ गर्मी ने सबको परेशान कर रखा है. दुसरी तरफ बारिश और बाढ़ ने देश में तबाही मचा रखी है. बहराइच में भी भूकंप के झटके महसूस हुए हैं. भूकंप और बारिश ने दुनिया भर में तबाही  मचाई है. नार्थ इंडिया में फिर भी कई हद तक तबाही से गलीमत है.

ओड़िसा में जारी किया गया ऑरेंज अलर्ट

मिली जानकारी के मुताबिक, मौसम विभाग ने एक नया निम्न दबाव क्षेत्र विकसित होने की चेतावनी के बीच ओडिशा के 17 जिलों में शुक्रवार के लिए बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. जो पिछले रात में तीसरा है.

भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र ने बुधवार को एक बुलेटिन में कहा था कि एक चक्रवाती परिसंचरण के प्रभाव में शुक्रवार के आसपास उत्तरी बंगाल की खाड़ी में मौसम प्रणाली बनने के लिए तैयार है. जो दक्षिण म्यांमार पर स्थित है.

शनिवार को कालाहांडी और पश्चिमी ओडिशा के सात जिलों में बहुत भारी वर्षा के अलावा नौ आसपास के जिलों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की. अधिकारियों ने कहा कि सरकार ने मछुआरों को सलाह दी है कि वे शुक्रवार को उत्तर और पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में और शनिवार को तट से दूर समुद्र में न जाएं. क्योंकि इस क्षेत्र में 45-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है.

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने गुरुवार को राज्य के 12 बाढ़ प्रभावित जिलों में से पांच का हवाई सर्वेक्षण किया और अगले 15 दिनों के लिए आपदा में प्रभावितों के लिए सहायता की घोषणा की है.

पटनायक ने केंद्रपाड़ा जिले में लूना, चित्रटोला और पाइका नदियों के बीच पड़ने वाले महानदी डेल्टा क्षेत्र, जगतसिंहपुर जिले के कुजांग और नौगांव, पुरी जिले के गोप, निमापारा, अस्टारंग, डेलंग, पिपिली और कनास क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.