Delhi में एक बड़े Drug सिंडिकेट का हुआ भंडाफोड़, 3 अंतरराष्ट्रीय तस्कर किए गए गिरफ्तार

Drug: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक नाइजीरियाई नागरिक सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर एक अंतरराष्ट्रीय ड्रग (Drug) सिंडिकेट का भंडाफोड़ करने का दावा किया है. और 17 करोड़ रुपये से अधिक की प्रतिबंधित दवाओं की जब्ती की है. बताया जा रहा है की, पुलिस ने उनके कब्जे से 241 ग्राम कोकीन और 17 करोड़ रुपये से अधिक कीमत की दो किलोग्राम हेरोइन बरामद की है.

Drug को लेकर दिल्ली में मचा हाहाकार

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक नाइजीरियाई नागरिक समेत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नशीली दवाओं की तस्करी करने वाले गिरोह के 3 सदस्यों को गिरफ्तार किया है. अधिकारियों के अनुसार, गिरफ्तार किए गए व्यक्ति कथित तौर पर पिछले 7 वर्षों से दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में ड्रग्स की आपूर्ति कर रहे थे. दिल्ली पुलिस ने कहा है की, “नशीले पदार्थों की तस्करी लैटिन अमेरिका से अफ्रीका के लिए हवाई मार्गों से की जाती थी.”

Delhi में एक बड़े Drug सिंडिकेट का हुआ भंडाफोड़, 3 अंतरराष्ट्रीय तस्कर किए गए गिरफ्तार
Delhi में एक बड़े Drug सिंडिकेट का हुआ भंडाफोड़, 3 अंतरराष्ट्रीय तस्कर किए गए गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कहा है की, “अरविंद कुमार और राकेश कुमार के नेतृत्व में डीसीपी राजीव रंजन सिंह के नेतृत्व में स्पेशल सेल और स्पेशल टास्क फोर्स (STF) की एक टीम ने कोकीन और हेरोइन की आपूर्ति में शामिल अंतरराष्ट्रीय ड्रग (Drug) सिंडिकेट के तीन प्रमुख आपूर्तिकर्ताओं को गिरफ्तार किया है. उनके पास से कुल 241 ग्राम कोकीन और 2 किलो हेरोइन बरामद की गई है.”

तस्करों के पास मिली ये चीज़ें

बता दें की, गिरफ्तार किए गए लोगों के पास से एक ऑटोरिक्शा और एक कार मिली है.  जिसका कथित तौर पर नशीली दवाओं के परिवहन में इस्तेमाल किया जा रहा था. ये तस्कर बीते सात साल से दिल्ली-एनसीआर सहित देश के कई राज्यों में नशा बेच रहे थे.

ड्रग (Drug) को मद्देनज़र रखते हुए हैदराबाद पुलिस ने सभी कॉलेजों में ड्रग (Drug) रोधी समितियों का आदेश दिया है. हैदराबाद शहर के पुलिस आयुक्त सी वी आनंद ने सोमवार को एक अधिसूचना जारी कर सभी कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों (educational institutions) को अपने संस्थानों में नशीली दवाओं के विरोधी समितियों का गठन (anti-drug committees) करने के लिए आदेश दिया है.

हैदराबाद पुलिस ने लिया ये एक्शन

शहर की पुलिस की एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि समिति  कम से कम पांच सदस्य शामिल होने चाहिए. इस पैनल को मुख्य रूप से विभिन्न स्थितियों से निपटने के लिए और युवाओं को नशीली दवाओं के दुरुपयोग को रोकने का काम सौंपा गया है. यह समिति उन्हें नशीली दवाओं की ओर मुड़ने से रोकेगी.

हैदराबाद शहर के पुलिस आयुक्त सी वी आनंद ने कहा है की, “एक सुरक्षित वातावरण छात्रों को अपनी ऊर्जा को ठीक से उपयोग करने और एक जिम्मेदार नागरिक के रूप में विकसित करने में सक्षम बनाता है. इस तरह के माहौल को सुनिश्चित करने के लिए, समितियों को दृढ़ संकल्प के साथ काम करना चाहिए.”

बताया जा रहा है कोरोना महामारी के बाद अब कॉलेज फिर से व्यवस्थित रूप से खुलने लगे हैं तो इसको मद्देनज़र रखते हुए यह कदम उठाया गया है. पुलिस का कहना है की सभी छात्र अनुशासन में रहे और नशीले पदार्थों का सेवन न करें.

Leave a Reply