स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र कुमार जैन

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र कुमार जैन को ED (प्रवर्तन निदेशालय) ने गिरफ्तार किया है। यह कार्रवाई कोलकाता की एक कंपनी से जुड़े हवाला लेन-देन के मामले में की गई है। भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि सत्येंद्र जैन के खिलाफ ईडी में उन्होंने 2017 में केस दर्ज करवाया था। तब से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बार-बार जैन को क्लीन चिट दी है | कपिल मिश्रा ने मांग की कि जैन की गिरफ्तारी के बाद मुख्यमंत्री को अब पद पर बने रहने का अधिकार नहीं है। उनको तुरंत इस्तीफा देना चाहिए।

सत्येंद्र जैन को मंगलवार 31 मई को दोपहर 2 बजे राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया जाएगा। ED के अफसर कोर्ट से जैन को रिमांड पर देने की मांग करेंगे।

ED को जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे

सत्येन्द्र जैन की गिरफ्तारी की बड़ी वजह यह भी सामने आई है कि वो ED को जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे। मामले से जुड़ी जानकारियां जांच एजेंसी से छुपा रहे थे। अब ED सत्येन्द्र को कोर्ट में पेश कर पूछताछ के लिए रिमांड मांगेगी, ताकि हवाला के इस मामले का पता लगाया जा सके। इस मामले को चलते करीब आठ साल हो गए हैं।

इससे पहले अप्रैल महीने में प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जैन के परिवार और कंपनियों की 4.81 करोड़ रुपये की संपत्तियां कुर्क की थी। जिसके बाद दिल्ली भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने आप सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन के खिलाफ जंतर मंतर पर धरना दिया और जैन को बर्खास्त करने की मांग की थी |

By Satyam

Leave a Reply

Your email address will not be published.