Pakistan में फिर हुआ घातक ब्लास्ट, बम हमले में एक पुलिसकर्मी की मौत

Pakistan: अधिकारियों के अनुसार, पाकिस्तान (Pakistan) की राजधानी इस्लामाबाद में एक चौकी पर एक आत्मघाती कार बम विस्फोट में कम से कम एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई और तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) सशस्त्र समूह, जिसे पाकिस्तानी (Pakistan) तालिबान के रूप में भी जाना जाता है. उसने रॉयटर्स समाचार एजेंसी को बताया है और हमले की जिम्मेदारी ली है. हमले में कई अन्य लोग घायल हो गए हैं.

पुलिस ने बताया की, “दंपत्ति कार से बाहर आए और अधिकारियों की ओर चेकिंग किए जाने के दौरान युवक किसी बहाने से फिर से वाहन के अंदर गया और खुद को उड़ा लिया.”

Pakistan में नहीं थम रहे बम ब्लास्ट

स्थाई मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान (Pakistan) की राजधानी इस्लामाबाद में एक जांच चौकी पर शुक्रवार को एक आत्मघाती कार बम विस्फोट में एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए हैं. पुलिस ने यह जानकारी दी है. पाकिस्तान (Pakistan) के इस्लामाबाद ऑपरेशंस के पुलिस प्रमुख सोहेल जफर ने संवाददाताओं से कहा है की, “हमारी शुरुआती जानकारी में कहा गया है कि कार में एक पुरुष और एक महिला थी.”

यह बमबारी पुलिस मुख्यालय के पास एक मुख्य सड़क पर हुई, जो देश की संसद और उच्च कार्यालयों वाले सरकारी भवनों की ओर जाती है. गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि हमले में इस्तेमाल की गई कार विस्फोटकों से भरी हुई थी. पाकिस्तान (Pakistan) के इस्लामाबाद के ऑपरेशन पुलिस प्रमुख सोहेल जफर ने संवाददाताओं से कहा, “हमारी शुरुआती जानकारी में कहा गया है कि कार में एक पुरुष और एक महिला थी.”

Pakistan में फिर हुआ घातक ब्लास्ट, बम हमले में एक पुलिसकर्मी की मौत
Pakistan में फिर हुआ घातक ब्लास्ट, बम हमले में एक पुलिसकर्मी की मौत

कार को पुलिस ने रीकने की कोशिश की थी, लेकिन नहीं रुकी कार

उन्होंने बताया कि जब पुलिस ने कार को रोकने की कोशिश की तो कार चौकी पर नहीं रुकी. आगे उन्होंने कहा की, “जैसे ही उन्होंने इसका पीछा किया, कार के अंदर के लोगों ने इसे उड़ा दिया; यह एक आत्मघाती विस्फोट था.”

पाकिस्तान (Pakistan) के आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह ने geo न्यूज टीवी को बताया कि “कार अपने लक्ष्य तक पहुंच गई होती. तो उसे भारी नुकसान होता.” आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह ने आगे कहा की, इस तरह के हमले की धमकियों के कारण राजधानी हाई अलर्ट पर थी. और समय पर हस्तक्षेप से एक बड़ा हादसा टल गया है.

TTP 2007 से पाकिस्तान में जादा तबाही मचाए है

टीटीपी (TTP) 2007 से पाकिस्तान की सरकार से लड़ रहा है और उसने देश भर में नागरिकों और सुरक्षा बलों पर दर्जनों हमले किए हैं. पिछले महीने, उसने जून में सरकार के साथ सहमत संघर्ष विराम को समाप्त करने की घोषणा की थी.

खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के बन्नू में एक आतंकवाद विरोधी सुविधा पर गतिरोध के बाद पाकिस्तानी सैन्य अभियान में टीटीपी के दर्जनों लड़ाकों के मारे जाने के दो दिन बाद शुक्रवार को बमबारी हुई है.

बताया जा रहा है की, हाल ही में, पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने सशस्त्र समूह, तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) द्वारा दो दिन पहले बंधक बनाए गए कई सुरक्षा अधिकारियों को मुक्त करने के लिए एक सुदूर उत्तर-पश्चिमी जिले में एक आतंकवाद विरोधी केंद्र पर धावा बोला था.

Leave a Reply