September 25, 2022
Spread the love

उत्तर कोरिया में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ रहा है। यहां करीब 15 लाख लोग कोरोना पॉजिटिव हैं। मंगलवार को यहां 2,69,510 नए कोरोना मरीज मिले है। कोरोना संक्रमण से 24 घंटे के दौरान छह लोगों की मौत हुई है। अप्रैल से अब तक 56 लोगों की संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। राजधानी प्योंगयांग में सभी दवा दुकानों के सामने आर्मी को तैनात किया गया है।

कोरोना की जांच के लिए पर्याप्त टेस्ट किट नहीं होने के कारण स्थिति और भी बदतर होते जा रही है। उत्तर कोरिया में बेकाबू होते संक्रमण और लोगों में रोष भड़कने की आशंका को देखते हुए तानाशाह किम जोंग उन ने हजारों सैनिकों को सड़कों पर उतार दिया हैै। संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट के अनुसार दुनिया में नॉर्थ कोरिया और अफ्रीकी देश इरिट्रीया ने वैक्सीन नहीं ली है।

कुपोषित लोग बढ़ा रहे वायरस का प्रभाव –

उत्तर कोरिया में करीब 40% लोग कुपोषित है। जिनकी वजह से कोरोना वायरस के प्रभाव को बढ़ा रहे हैं। इस संकट के बीच दक्षिण कोरिया ने नॉर्थ कोरिया को मास्क, वैक्सीन और जांच किट देने की पेशकश की थी, लेकिन किम ने इनकार कर दिया।

विषेशज्ञों के मुताबिक, 2.6 करोड़ की आबादी वाले उत्तर कोरिया का हेल्थ सिस्टम दुनिया में सबसे खराब। वहां अस्पतालों, स्पेशल केयर यूनिट, कोविड मेडिसिन और टेस्टिंग सिस्टम की भारी कमी है। इसे लेकर अमेरिका ने चेतावनी दी है कि अगर हालात जल्द नहीं सुधरे तो किम का तख्तापलट हो सकता है।

वैक्सीन लेने संबंधी सभी प्रस्ताव ठुकरा चुका है उत्तर कोरिया –

उत्तर कोरिया में वायरस फैलने से पहले, किम के सामने चीन और WHO ने कोविड वैक्सीन के कई प्रस्ताव रखे थे, लेकिन उन्होंने इसे ठुकरा दिया। हालांकि, देश में तेजी से संक्रमण फैलने के बाद चीन ने एक बार फिर उत्तर कोरिया के सामने नए प्रस्ताव रखे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.