China के पास 2035 तक होंगे 1500 परमाणु हथियार

China: परमाणु ताकतों का आधुनिकीकरण, विविधता और विस्तार करने के उद्देश्य से, चीन (China) ने अपने परमाणु विस्तार को तेज कर दिया है. चीन (China) लगभग 1500 हथियारों के भंडार को तैयार करने की योजना बना रहा है. 2035 तक चीन परमाणु हथियार तैयार कर लेगा. अमेरिकी रक्षा विभाग ने रिपोर्ट में कहा है की, “रक्षा विभाग का अनुमान है कि पीआरसी (PRC) के परिचालन परमाणु हथियारों का भंडार 400 से अधिक हो गया है.”

China कर रहा है परमाणु विस्तार

अधिकारिक मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक, पेंटागन ने मिलिट्री एंड सिक्योरिटी डेवलपमेंट्स इनवॉल्विंग द पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (PRC) शीर्षक वाली एक रिपोर्ट में कहा है कि “बीजिंग ने संभवत: पिछले साल अपने परमाणु विस्तार को तेज कर दिया है. परिचालन 400 परमाणु हथियारों के भंडार को पार कर गया है.”

अमेरिकी रक्षा विभाग ने रिपोर्ट में कहा है की, “पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (People’s Liberation Army-PLA) की योजना मूल रूप से 2035 तक अपने राष्ट्रीय रक्षा और सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण को पूरा करने की है. यदि चीन अपने परमाणु विस्तार की गति को जारी रखता है. तो यह संभवतः 2035 की समयरेखा तक लगभग 1500 वारहेड का भंडार बना देगा.”

अगले दशक तक चीन के पास होगा अच्छा स्टॉक

पेंटागन के अनुसार, पीआरसी (PRC) का लक्ष्य अगले दशक में अपने परमाणु बलों का आधुनिकीकरण, विविधता और विस्तार करना है. चीन (China) ने कहा, वह फास्ट ब्रीडर रिएक्टरों और पुनर्संसाधन सुविधाओं का निर्माण करके प्लूटोनियम का उत्पादन करने और अलग करने की अपनी क्षमता बढ़ाकर इस विस्तार का समर्थन कर रहा है.

China के पास 2035 तक होंगे 1500 परमाणु हथियार
China के पास 2035 तक होंगे 1500 परमाणु हथियार

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो, “पीआरसी अपने भूमि-, समुद्र- और वायु-आधारित परमाणु वितरण प्लेटफार्मों की संख्या में निवेश और विस्तार कर रहा है. चीन अपने परमाणु बलों के इस बड़े विस्तार का समर्थन करने के लिए आवश्यक बुनियादी ढांचे का निर्माण भी कर रहा है.”

PAP भी हैं पश्चिमी थिएटर कमांड के नियंत्रण में

पेंटागन के अनुसार, वेस्टर्न थिएटर कमांड के भीतर स्थित PLA इकाइयों में 76वें और 77वें समूह की सेनाएं और झिंजियांग और शिजांग सैन्य जिलों के अधीन जमीनी बल शामिल हैं. जिनमें एक परिवहन प्रभाग, और एक उड़ान अकादमी और एक PLARF बेस है.

बता दें की, आंतरिक सुरक्षा संचालन के लिए जिम्मेदार पीएपी (PAP) इकाइयां भी पश्चिमी थिएटर कमांड के नियंत्रण में हैं. चीन के भीतर, वेस्टर्न थिएटर कमांड झिंजियांग और तिब्बत स्वायत्त क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करते है. विशेष रूप से शिनजियांग में उईघुर आबादी के बीच सीसीपी अलगाववाद और आतंकवाद के खतरे को मानता है.

चीन ने अमेरिका को दी चेतावनी

मिली जानकारी के मुताबिक, पेंटागन मंगलवार को एक रिपोर्ट में कहा है की, पेंटागन ने कांग्रेस को एक रिपोर्ट में कहा है कि चीन (China) ने अमेरिकी अधिकारियों को भारत के साथ अपने संबंधों में हस्तक्षेप न करने की चेतावनी दी है.

वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर भारत के साथ अपने गतिरोध के दौरान, चीनी अधिकारियों ने संकट की गंभीरता को कम करने की कोशिश की है. सीमा की स्थिरता को बनाए रखने और भारत के साथ अपने द्विपक्षीय संबंधों के अन्य क्षेत्रों को नुकसान पहुँचाने से गतिरोध को रोकने के बीजिंग के इरादे पर जोर दिया है.

Leave a Reply