September 25, 2022
China: कंबोडिया में चीन बना रहा गुप्ता नौसैनिक अड्डा, बनना चाहता है सुपर पॉवर

China: कंबोडिया में चीन बना रहा गुप्ता नौसैनिक अड्डा, बनना चाहता है सुपर पॉवर

Spread the love

चीन (China) के सुपर पॉवर बनने का सपना अब आसमान छूता जा रहा है. वाशिंगटन पोस्ट के अनुसार चीन (China) कंबोडिया(Cambodia) में अपना गुप्त सैन्य अड्डा बना रहा है.

रिपोर्ट के अनुसार यह सैन्य बेस थाईलैंड की खाड़ी में कंबोडिया के रीम नेवल बेस के उत्तरी हिस्से में स्थित हैं।

China का यह दूसरा सैन्य अड्डा

चीन(China) ने इंडो-पैसिफिक(Indo-Pacific) क्षेत्र पर अपनी पकड़ को मजबूत करने के लिए यह सैन्य अड्डा बनाया है.

दुनिया की जानकारी में चीन का यह दूसरा विदेशी नौसैनिक अड्डा होगा, जबकि पहला अड्डा पूर्वी अफ्रीकी देश जिबूती में है। चीन की ये उपस्थिति इंडो-पैसिफिक(Indo-Pacific) क्षेत्र में चीन की सैन्य शक्ति को विस्तारित करेगी.

बता दें की, चीन(China) पूरी दुनिया में अपने सैन्य बेस को फैलाने की कोशिश कर रहा है. इसके लिए वो आर्थिक रूप से कमजोर देशों को कर्ज देकर उनके यहां घुसपैठ कर रहा है. अब इसी लिस्ट में कंबोडिया(Cambodia) भी है. वहां पर चीन(China) नौसैनिक सुविधा का निर्माण कर रहा है, जो असल में सैन्य बेस की तरह काम करेगा. इससे चीन हवा और समुद्र दोनों ही तरीको से और ज्यादा ताकतवर हो जाएगा.

इंडो-पैसिफिक क्षेत्र पर पकड़ बना रहा चीन

अमेरिका, भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान सहित कई देशों के विरोध के बावजूद बावजूद चीन इंडो-पैसिफिक(Indo-Pacific) क्षेत्र में अपनी पकड़ को तेजी से मजबूत कर रहा है |

इसके साथ ही धीरे धीरे चीन(China) अब अपनी चौकियों की रेंज भी बढाता जा रहा है. 2019 में प्रकाशित द वॉल स्ट्रीट जर्नल(The Wall Street General) की माने तो, चीन(China) अपनी सेना को जमीन का उपयोग करने की अनुमति दिलाने के लिए एक गुप्त समझौते पर हस्ताक्षर कर चुगा है.

एक पश्चिमी अधिकारी के मुताबिक, “हमारा अनुमान है कि हिंद-प्रशांत चीनी नेताओं के लिए अहम है, जिसे वे ऐतिहासिक रूप से अपने प्रभाव का क्षेत्र मानते हैं. वे इसे अपना अधिकार समझते हैं.”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.