Balochistan: बलूचिस्तान में पहले कैंसर अस्पताल के लिए आवंटित फंड को कही और किया गया खर्च

पाकिस्तान में भ्रष्टाचार और कुप्रबंधन के एक और उदाहरण आया सामने. बलूचिस्तान (Balochistan) में पहले कैंसर अस्पताल (Cancer Hospital) के लिए आवंटित धन कहीं और खर्च किया गया.

बलूचिस्तान सरकार (Balochistan Goverment) ने 2006 के बजट में प्रांत के पहले कैंसर अस्पताल के लिए एक बड़ा फंड आरक्षित किया था. लेकिन हर साल के अंत में, फंड का इस्तेमाल किसी अन्य उद्देश्य के लिए किया जा रहा है.

कहाँ गया सारा फंड

ANI की ख़बर के मुताबिक, शेख जैद अस्पताल में पूर्व मुख्यमंत्री जाम कमाल खान (Jam Kamal Khan) ने कैंसर सेक्शन का उद्घाटन किया था. भवन बनकर तैयार हो गया था लेकिन इसके लेआउट में कुछ खामियां थीं जिन्हें अब तक ठीक नहीं किया गया है. उन्होंने कैंसर अस्पताल (Cancer Hospital) बनाने का वादा किया था.  जो लंबे समय से लोगों की स्वास्थ्य सुविधाओं को सुनिश्चित करने की मांग थी.

स्थानीय मीडिया ने कहा कि पहले कैंसर अस्पताल में आवश्यक मशीनरी कभी नहीं लगाई गई थी. क्योंकि मशीनरी लगाने के लिए जगह उपलब्ध नहीं थी और इस समस्या का समाधान अभी तक नहीं हुआ है. बता दें की, आवश्यक चिकित्सा उपकरणों की किस्त में देरी के कारण लोगों को इलाज के लिए कराची, इस्लामाबाद या लाहौर जाना पड़ता है. जो गरीब लोगों के लिए बहुत महंगा होता है.

Balochistan की जनता ने सरकार से किया आग्रह

मिली जानकारी के अनुसार, बलूचिस्तान (Balochistan) की जनता ने पाकिस्तान सरकार से आग्रह किया है की, अस्पताल को पूरा किया जाए. इसके साथ ही युद्ध स्तर पर मशीनरी स्थापित की जाएँ. और अस्पताल को जल्दि जल्दि जनता के लिए शुरू किया जाए. इसके साथ ही जनता का कहना है की, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कैंसर, लीवर और किडनी प्रत्यारोपण का इलाज सबसे महंगा है. और इसके लिए लाखों रुपये की आवश्यकता होती है.

बता दें की, 1947 में देश के अस्तित्व में आने के समय से ही पाकिस्तान की सरकार बलूचिस्तान की जनजातियों के बीच दुश्मनी से निपट रही है. ऐसा कहा जाता है की बलूचिस्तान के साथ संघर्ष के कारणों में आर्थिक और राजनीतिक बहिष्कार की भावनाओं के साथ-साथ एक परिपक्व जातीय राष्ट्रवाद शामिल है. बलूचिस्तान पाकिस्तान के दक्षिण पश्चिम में स्थित है और देश के आधे क्षेत्र को जोड़ता है. जनसांख्यिकीय रूप से हालांकि यह पाकिस्तान की कुल आबादी का मात्र 3.6 प्रतिशत है.

13 मिलियन से अधिक लोग रहते हैं

ANI की रिपोर्ट की माने तो, पाकिस्तान के दक्षिण पश्चिम इलाके में लगभग 13 मिलियन (1 करोड 30 लाख )से अधिक लोगों के घर हैं. इन घरों में ज्यादातर घर बलोच लोगों के ही है.

बलूचिस्तान पाकिस्तान का सबसे बड़ा प्रान्त है , लेकिन सबसे कम विकसित और गरीब प्रान्त है. यहाँ गैस, तेल, तांबा और सोने सहित प्राकृतिक संसाधनों की उच्च सांद्रता के कारण यह पाकिस्तान के सबसे महत्वपूर्ण प्रांतों में से एक है फिर भी पाकिस्तान सरकार यहाँ से प्राप्त खनिजों और आय को यहाँ पर न लगाकर दूसरे प्रान्त में इसका इस्तेमाल करती है. जिसके कारण बलूचिस्तान के स्थानीय लोग पाकिस्तान से अलग होने की मांग करते है.

बलूचिस्तान (Balochistan) प्राकृतिक संसाधनों में समृद्ध होने के बावजूद भी पाकिस्तान का सबसे गरीब प्रांत माना जाता है. बलूचिस्तान (Balochistan) के लोगों में हमेशा एक गुस्सा और विरोध देखा जाता है. ये गुस्सा और विरोध इस लिए है क्योंकि पाकिस्तान में कई सरकारें आई और गई लेकिन किसी ने भी बलूचिस्तान के विकास की बात नहीं की.

Leave a Reply