Kabul में Pakistan Embassy में हुआ बम ब्लास्ट, राजदूत की हत्या की हुई कोशिश

Pakistan Embassy: काबुल में पाकिस्तान के दूतावास (Pakistan Embassy) पर शुक्रवार को हमला हुआ है. जिसमें एक पाकिस्तानी सुरक्षा गार्ड घायल हो गया है. अधिकारियों ने कहा कि इस्लामाबाद ने अपने मिशन के प्रमुख की हत्या का प्रयास किया है.

Pakistan Embassy पर हुआ हमला

रायटर्स से मिली जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान में पाकिस्तान (Pakistan Embassy) के शीर्ष राजनयिक को हत्या के प्रयास से निशाना बनाया गया है. अब पड़ोसी देशों के बीच तनाव चरम पर है.

अफगानिस्तान की राजधानी में शुक्रवार को एक अन्य हमले में पूर्व प्रधानमंत्री गुलबुद्दीन हिकमतयार की हिज्ब-ए-इस्लामी पार्टी के कार्यालय के पास एक आत्मघाती बम विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत भी हो गई है.

हमले के पीछे कौन था अभी नहीं हुआ है स्पष्ट

स्थाई मीडिया की माने तो यह तुरंत स्पष्ट नहीं हुआ था कि दूतावास (Pakistan Embassy) के हमले के पीछे कौन था. यह हमला तब हुआ है जब पाकिस्तान के विदेश राज्य मंत्री के नेतृत्व में काबुल में तालिबान अधिकारियों से मिलने के लिए दोनों देशों के बीच सीमा पर तनाव कम करने के लिए बैठक हुई थी.

Kabul में Pakistan Embassy में हुआ बम ब्लास्ट, राजदूत की हत्या की हुई कोशिश
Kabul में Pakistan Embassy में हुआ बम ब्लास्ट, राजदूत की हत्या की हुई कोशिश

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि मिशन के प्रमुख उबैद उर रहमान निज़ामानी अपने दूतावास परिसर पर हमले का लक्ष्य थे. हमले में एक पाकिस्तानी सुरक्षा गार्ड (Pakistan Embassy) गंभीर रूप से घायल हो गया है.

इमारत को बनाया गया निशाना

काबुल पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि दूतावास (Pakistan Embassy) परिसर को पास की एक इमारत से गोलियों से निशाना बनाया गया है. बयान में कहा गया है कि पुलिस ने एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है और दो आग्नेयास्त्र (firearms) बरामद किए हैं.

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कहा कि निजामनी सुरक्षित है. लेकिन एक पाकिस्तानी सुरक्षा गार्ड, सिपाही इसरार मोहम्मद, राजदूत की रक्षा करते हुए हमले में गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

निज़ामनी पिछले महीने काबुल में उन कुछ दूतावासों में से एक में भूमिका निभाने के लिए पहुंचे थे. अगस्त 2021 में कट्टर इस्लामिक तालिबान द्वारा विदेशी सेना के हटने के बाद से सत्ता पर काबिज होने के बाद से चालू हैं. पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि घटना के बाद दूतावास को खाली करने की उनकी कोई योजना नहीं है.

तालिबान ने की हमले की निंदा

तालिबान विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने हमले की निंदा की है. प्रवक्ता अब्दुल कहर बाल्खी ने ट्विटर पर कहा है की, “अफगानिस्तान का इस्लामिक अमीरात काबुल में पाकिस्तानी दूतावास पर गोलीबारी के प्रयास और विफल हमले की कड़ी निंदा करता है.” उन्होंने कहा कि तालिबान सुरक्षा एजेंसियां ​​जांच करेंगी.

पाकिस्तानी तालिबान (TTP) ने सोमवार को कहा कि वह अब पाकिस्तानी सरकार के साथ एक महीने के संघर्ष पर अब चुप नहीं बैठेगा. यह हमला अफगानिस्तान की सीमा से लगे क्षेत्रों में सुरक्षा चिंताओं के समय हुआ है. अफगान तालिबान पिछले साल के अंत से स्थानीय आतंकवादियों और पाकिस्तान के अधिकारियों के बीच शांति वार्ता को आगे बढ़ा रहा है.

Leave a Reply