Blacklisted: रूस-यूक्रेन युद्ध में रूस का समर्थन करना पड़ा भारी, अमेरिका ने चीनी, पाकिस्तानी कंपनियों को ब्लैकलिस्ट किया

Blacklisted:  रूस-यूक्रेन युद्ध (Russia-Ukraine war) के बीच रूस (Russia) को समर्थन करना 36 कंपनियों को बहुत महंगा पड़ गया है. बता दें की, चीन (China) और पाकिस्तान (Pakistan) सहित 36 कंपनियों को अमेरिका ने ब्लैकलिस्ट (Blacklisted) कर दिया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन (Joe Biden) के प्रशासन ने रूस के सैन्य और रक्षा औद्योगिक आधार का समर्थन करने के लिए चीन में पांच कंपनियों को व्यापार ब्लैकलिस्ट में जोड़ा है.

अमेरिका का फूटा गुस्सा, 36 कंपनियां हुई ब्लैकलिस्ट

मिली जानकारी के मुताबिक, संघीय रजिस्टर प्रविष्टि के अनुसार, एजेंसी ने रूस, संयुक्त अरब अमीरात, लिथुआनिया, पाकिस्तान, सिंगापुर, यूनाइटेड किंगडम, उज्बेकिस्तान और वियतनाम सहित अन्य 31 संस्थाओं को ब्लैकलिस्ट (Blacklisted) में जोड़ा है. अल जज़ीरा ने बताया कि कुल 36 कंपनियों में से 25 में चीनी कंपनियां थीं.

उद्योग और सुरक्षा के वाणिज्य सचिव एलन एस्टेवेज (Under Secretary of Commerce for Industry and Security Alan Estevez) ने एक बयान में कहा, “आज की कार्रवाई दुनिया भर में संस्थाओं और व्यक्तियों को एक शक्तिशाली संदेश भेजती है कि अगर वे रूस का समर्थन करना चाहते हैं, तो संयुक्त राज्य अमेरिका भी उन्हें किसी तरह से नहीं बक्षेगा.”

चीन की तीन कंपनियों पर रूसी सेना, कॉनेक इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड, हांगकांग स्थित वर्ल्ड जेट्टा और लॉजिस्टिक्स लिमिटेड की सहायता करने का आरोप लगाया गया है. जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, अन्य दो किंग पाई टेक्नोलॉजी कंपनी लिमिटेड और विन्निंक इलेक्ट्रॉनिक ने टिप्पणी के अनुरोधों का तुरंत जवाब नहीं दिया था.

संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को आक्रमण के लिए दंडित करने के लिए सहयोगियों के साथ निर्धारित किया है, जिसे मास्को रूसी कंपनियों और कुलीन वर्गों की एक बेड़ा को मंजूरी देकर और दूसरों को एक ब्लैकलिस्ट में जोड़कर अमेरिका ने “विशेष ऑपरेशन” का नाम दिया है.

बता दें की, अमेरिकी अधिकारियों ने पहले कहा था कि चीन आम तौर पर प्रतिबंधों का पालन कर रहा था, वाशिंगटन (washington) ने अनुपालन की बारीकी से निगरानी करने और नियमों को सख्ती से लागू करने की कसम खाई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.