Bihar Cabinet Expansion: बिहार में 31 नए मंत्रियों ने ली शपथ, इनमें 16 राजद, 11 जेडीयू के विधायक शामिल

Bihar Cabinet Expansion: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज अपने मंत्रिमंडल का विस्तार (Bihar Cabinet Expansion) किया. जिसमें गठबंधन सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को सीटों का सबसे बड़ा हिस्सा मिला. राज्यपाल फागू चौहान ने नए मंत्रियों को पद की शपथ दिलाई.

राष्ट्रीय जनता दल को मिली जादा सीटें

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के भाई तेज प्रताप यादव सहित लगभग 30 विधायकों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के तहत बिहार के नए मंत्रिमंडल (Bihar Cabinet Expansion) के हिस्से के रूप में शपथ ली है.

बिहार कैबिनेट में कुल 31 विधायकों ने शपथ ली है. जिनमें से आरजेडी 16, जेडीयू 11, कांग्रेस से दो, हम से एक और एक निर्दलीय विधायक ने शपथ ली. नए मंत्रिमंडल में मुसलमानों की संख्या पांच है. पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (एचएएम) के एक और एक निर्दलीय शामिल हैं.

ऐसा माना जा रहा है की, यादवों को महत्वपूर्ण संख्या में सात सीटें दी हैं. जिनमें तेज प्रताप भी शामिल हैं. जो पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद के बड़े बेटे भी हैं. हालांकि, इसने डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव द्वारा व्यापक सामाजिक पहुंच को ध्यान में रखते हुए उच्च जातियों को भी प्रतिनिधित्व दिया.

राजद कोटे से भूमिहार एमएलसी कार्तिकेय सिंह और राजपूत सुधाकर सिंह थे, जिनके पिता जगदानंद सिंह वर्तमान में प्रदेश अध्यक्ष हैं. जद (यू) के गृह विभाग (यह पिछले प्रशासन में नीतीश के पास था), सतर्कता, शिक्षा, भवन निर्माण, अल्पसंख्यक मामले, समाज कल्याण और जल संसाधन और राजद को वित्त, जैसे विभाग मिल सकते हैं. वाणिज्यिक कर, स्वास्थ्य, सड़क निर्माण, आपदा प्रबंधन, और पर्यावरण और वन.

मंत्रालयों का समझौता इस प्रकार हो सकता है

अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, मंत्रालयों पर राजद-जद (यू) का समझौता वैसा ही हो सकता है जैसा नीतीश ने भाजपा के साथ किया था. भाजपा से अलग होने और महागठबंधन गठबंधन में फिर से शामिल होने के बाद नीतीश के उपमुख्यमंत्री के रूप में तेजस्वी के साथ एक बार फिर मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के कुछ दिनों बाद मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ है.

नीतीश और भाजपा में काफ़ी समय से कलाह मची हुई थी. लेकिन नीतीश कुमार ने भाजपा से अपना अलगाव करके इस बात पर मुहर लगा दी थी. भाजपा ने नीतीश पर कई तरह के आरोप लगाए हैं. इस बीच भाजपा और नीतीश के रास्ते अब हमेशा के लिए अलग होते ही नज़र आ रहें हैं.

बता दें की, बिहार में महागठबंधन की नई सरकार बन चुकी है और मंगलवार को मंत्रिमंडल का भी विस्तार हो गया है. इसके पहले नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने मुख्यमंत्री और तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी.

उपेंद्र कुशवाहा ने नए मंत्रियों को दिए गुरु मंत्र

नीतीश की नै सरकार में कई नए मंत्री शामिल हुए हैं. इसके चलते जेडीयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने नए मंत्रियों को गुरु मंत्र दिया है. उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने अपने ट्वीट में लिखा है की,

“बिहार सरकार के मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले सभी माननीयों को हार्दिक बधाई. कामना है कि सरकार में शामिल सभी मंत्री बेहतर आपसी समन्वय के साथ श्री नीतीश कुमार जी के नेतृत्व को पूरी ताकत देंगे. साथ ही बिहार में पूर्ण अमन-चैन को बनाए रखते हुए विकास को नई ऊंचाई तक पहुंचाएंगे. ख्याल रहे, सिर्फ बिहार ही नहीं पूरे देश के लोगों की नजर है हमारे ऊपर.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.