September 25, 2022
भारत का Tech Hub Bengaluru मूसलाधार बारिश के बाद पूरी तरह से डूबा

भारत का Tech Hub Bengaluru मूसलाधार बारिश के बाद पूरी तरह से डूबा

Spread the love

Bengaluru: दो दिनों की मूसलाधार बारिश के कारण लंबे समय तक ट्रैफिक जाम, व्यापक बिजली कटौती और घरों और जलमग्न सड़कों पर भारी बाढ़ आने के बाद दक्षिणी भारतीय शहर बेंगलुरु (Bengaluru) में कई लोगों के लिए जीवन बाधित हो गया है.

बेंगलुरु में बारिश की वजह से जनता को हो रही समस्या

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, बाढ़ और बारिश ने पुरे देश में तबाही मचा रखी है. बारिश के चलते भारत का टेक हब कहे जाने वाला बेंगलुरु पुरी तरह से डूब चुगा है. बता दें की, भारत की तकनीकी राजधानी कहे जाने वाले शहर के कई हिस्से मंगलवार को दूसरे दिन भी पानी में डूबे रहे क्योंकि असामान्य रूप से गीले मानसून के मौसम में अधिक बारिश हुई है.

कर्नाटक राज्य में लगभग 8.5 मिलियन का दक्षिणी महानगर 1990 के दशक में फला-फूला और दुनिया के बैक ऑफिस में कई आउटसोर्सिंग और सॉफ्टवेयर कंपनियों का घर है. शहर की कंपनियों ने शिकायत की है कि बुनियादी ढांचे का विकास नहीं हुआ है.

बारहमासी ट्रैफिक जाम और झीलों के सूखे बिस्तरों पर अनियोजित निर्माण के कारण मध्यम वर्षा के बाद भी बार-बार बाढ़ आती है. भारतीय मीडिया के पत्रकारों का कहना है की,

“ईमानदारी से कहूं तो, हर साल हम शहर के किसी न किसी हिस्से में बाढ़ देखते हैं. लेकिन इस बार हमने जिस हद तक देखा है वह अभूतपूर्व है. जलवायु परिवर्तन और हमारे शहरी बुनियादी ढांचे के अनियोजित होने के कारण, स्थिति बदतर होती जा रही है.”

हवाई अड्डे से यात्रियों को ले जाने के लिए ट्रैक्टरों का किया जा रहा इस्तेमाल

सोमवार को, अधिकारियों ने आसपास के लोगों को फेरी लगाने के लिए रबर की डिंगियों को तैनात किया और सोशल मीडिया पर फुटेज में दिखाया गया कि हवाई अड्डे से यात्रियों को ले जाने के लिए ट्रैक्टरों का इस्तेमाल किया जा रहा है. आउटर रिंग रोड कंपनीज एसोसिएशन (ORRCA), आईटी क्षेत्र के लिए छाता समूह, ने कर्मचारियों को घर से काम करने की सलाह दी. जबकि कई स्कूल और कॉलेज बंद थे.

बता दें की, प्रशासन ने जलापूर्ति बाधित करने की चेतावनी दी है. सोशल मीडिया वीडियो में कुछ निवासियों को बाढ़ से भरे बेसमेंट और दुकानों को खाली करने के लिए संघर्ष करते हुए दिखाया गया है. बाढ़ के पानी में डूबे लोगों को बचाने के लिए नावों को लगाया गया है.

50 से अधिक क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति होगी बंद

प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया समाचार एजेंसी के अनुसार, राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा कि सितंबर के पहले सप्ताह में शहर के कुछ इलाकों में सामान्य से 150 प्रतिशत अधिक बारिश हुई. बेंगलुरु की जल आपूर्ति कंपनी ने सोमवार को कहा कि वह शहर के 50 से अधिक क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति दो दिनों के लिए बंद करना पड़ेगा.  क्योंकि एक पंपिंग स्टेशन 100 किमी (60 मील) दूर से पानी लाता है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के आंकड़ों के अनुसार, बैंगलोर शहरी जिले जो शहर (Bengaluru) के अधिकांश कार्यालयों का घर है. उसमें सोमवार को 79.2 मिमी (3.1 इंच) बारिश हुई. आईएमडी ने कहा कि भारतीय प्रायद्वीप के दक्षिण में अगले पांच दिनों में भारी और छिटपुट बारिश जारी रहेगी.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.