Assam Flood: असम में बाढ़ का कहर ज़ारी, सरकार राहत पहुँचाने में जुटी

Assam Flood: असम (Assam) के नगांव (Nagaon) जिले में बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई है. नागांव (Nagaon) के उपायुक्त निसर्ग हिवारे (Deputy Commissioner Nisarg Hivare) ने सोमवार को बताया कि राज्य सरकार प्रभावित क्षेत्रों में राहत सामग्री मुहैया करा रही है. इसलिए किसी को कुछ भी भुगतान नहीं करना पड़ेगा. सारा राहत बचाव का कार्य सरकार कर रही है.

असम में ज़ारी है राहत बचाव का कार्य

उपायुक्त निसर्ग हिवारे (Deputy Commissioner Nisarg Hivare) का कहना है की, “राहत सामग्री प्रदान की जा रही है. सब कुछ सरकार की तरफ़ से दिया जा रहा है. किसी को कुछ भी भुगतान नहीं करना होगा. हमें इस संबंध में एक शिकायत मिली है और कार्रवाई भी करेंगे.” इसके साथ ही उन्होंने कहा की,”हमने लोगों को तीन दिन की राहत सामग्री भेजी है और अब पांच दिनों के लिए राहत सामग्री पहुंचाने की तैयारी कर रहे हैं.

असम (Assam)  में आई बाढ़ (Flood) ने कई इलाकों को प्रभावित किया है. जिनमें 27 जिले शामिल हैं.  NBT की रिपोर्ट्स के मुताबिक, 27 लाख लोग बाढ़ (Assam Flood) प्रभावित हुई हैं. इस बीच राज्य में 75 राजस्व सर्किल के 2542 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं तथा 2,17,413 लोग 564 राहत शिविरों में ठहरे हुए हैं.

मौसम वैज्ञानिको के अनुसार, असम में बाढ़ का सबसे बड़ा कारण ग्लोबल वार्मिंग (Global Warming) है. मौसम विभाग की ओर से 1901 से 2015 यानी 115 साल के आंकड़ों के अध्ययन के बाद करीब चार साल पहले प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया था कि इलाके में बारिश के मौसम में अत्यधिक भारी बारिश होने की घटनाएं भी बढ़ी हैं. इसके अलावा मानसून से पहले और बाद की बारिश भी तेज हुई है. इसी वजह से बाढ़ का सिलसिला तेज हुआ है.

भारतीय मीडिया के लिए अहम नहीं है असम की मुसीबत

भारतीय मीडिया पर अब सवाल खड़े हो रहे हैं. लोग ऐसा दावा कर रहें हैं इंडियन मीडिया असम की ख़बरों नहीं दिखा रह है. अगर ख़बरें उत्तर प्रदेश या महाराष्ट्र की होती तो मीडिया में वो हेडलाइंस बनी रहती लेकिन असम में लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं इसकी कोई मीडिया द्वारा जानकारी नहीं दी रही है.

सोशल मीडिया पर वायरल विडियो…

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.