Anwar Ibrahim बने मलेशिया के नए प्रधानमंत्री, PM मोदी ने भी दी बधाई

Anwar Ibrahim: मलेशिया के राजा ने सुधारवादी विपक्षी नेता अनवर इब्राहिम (Anwar Ibrahim) को गुरुवार को देश के प्रधानमंत्री के रूप में नामित किया गया है. एसोसिएटेड प्रेस के अनुसार, सुल्तान अब्दुल्ला सुल्तान अहमद शाह ने कहा कि अनवर आज शपथ लेंगे.

Anwar Ibrahim बने प्रधानमंत्री

CNN से मिली जानकारी के मुताबिक, अनवर इब्राहिम (Anwar Ibrahim) गुरुवार को शाम 5 बजे मलेशिया के 10वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. द स्ट्रेट्स टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, शाही नियंत्रक फडली शमसुद्दीन ने एक बयान में कहा, “मलय शासकों के विचारों को पढ़ने के बाद, महामहिम ने दातुक सेरी अनवर इब्राहिम को मलेशिया के 10वें प्रधानमंत्री के रूप में नियुक्त करने पर सहमति दी है.”

अनवर इब्राहिम (Anwar Ibrahim) के एलायंस ऑफ होप ने शनिवार के चुनाव में 82 सीटों पर जीत हासिल की है. पूर्व प्रधान मंत्री मुहीदीन यासिन के दक्षिणपंथी राष्ट्रीय गठबंधन ने 73 सीटों पर जीत हासिल की है. इसकी सहयोगी पैन-मलेशियाई इस्लामिक पार्टी 49 सीटों के साथ सबसे बड़ी एकल पार्टी के रूप में उभरी है.

जानकारी के लिए बता दें की, भारत के पीएम ने भी अनवर इब्राहीम को बधाई दी है. ट्विटर पर पीएम मोदी ने कहा, “दातो सेरी @anwaribrahim को मलेशिया का प्रधानमंत्री चुने जाने पर बधाई. मैं भारत-मलेशिया संवर्धित रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने के लिए मिलकर काम करने की आशा करता हूं.”

Anwar Ibrahim बने मलेशिया के नए प्रधानमंत्री, PM मोदी ने भी दी बधाई
Anwar Ibrahim बने मलेशिया के नए प्रधानमंत्री, PM मोदी ने भी दी बधाई

राजा सुल्तान अब्दुल्ला अहमद शाह ने भी प्रस्ताव को किया मंजूर

मलेशिया के प्रधानमंत्री के पद पर अनवर इब्राहिम का उदय 1998 में उप प्रधानमंत्री के रूप में बर्खास्त किए जाने और सत्ता के दुरुपयोग के आरोपों के बाद हुआ है. मलेशिया में आम चुनाव के पांच दिन बाद मलेशिया में नई सरकार का गठन होना तय है.

मलेशिया के प्रधानमंत्री के बारे में घोषणा अधिकांश दलों द्वारा राजा सुल्तान अब्दुल्ला अहमद शाह के एक एकता सरकार के प्रस्ताव पर सहमत होने के बाद की गई है. समाचार रिपोर्ट के अनुसार, पार्टी केदिलन राक्यत के अध्यक्ष अनवर इब्राहिम और उनके प्रतिद्वंद्वी पेरिकटन नैशनल (PN) के प्रमुख मुहीद्दीन यासिन में कुछ वोटों का फासला था. जिसके चलते अंतिम फैसला अनवर इब्राहिम के पक्ष में ही आया.

UMNO ने एकता सरकार का हिस्सा बनने के लिए व्यक्त की थी इच्छा

गुरुवार को, यूनाइटेड मलेशियाई नेशनल ऑर्गनाइजेशन (UMNO) पार्टी ने एक एकता सरकार का हिस्सा बनने के लिए इच्छा व्यक्त की. यूएमएनओ (UMNO) के महासचिव अहमद मसलन ने गुरुवार को कहा कि पार्टी के सर्वोच्च निर्णय लेने वाले निकाय ने अब एक ऐसी एकता सरकार का समर्थन करने का फैसला किया है. जिसका नेतृत्व मुहीद्दीन के खेमे से नहीं किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि पार्टी किसी भी एकता सरकार या राजा द्वारा तय सरकार के किसी अन्य रूप को स्वीकार करेगी.

यूएमएनओ (UMNO) के पास 26 सीटें हैं और चार अन्य इसके राष्ट्रीय मोर्चा गठबंधन में घटक दलों के पास हैं. यह स्पष्ट नहीं है कि पार्टी के अन्य सदस्य यूएमएनओ (UMNO) के फैसले के साथ जाने के लिए सहमत हुए हैं या नहीं.

इतनी मिलेंगी उनको टोटल सीटें

अगर नेशनल फ्रंट के सभी 30 विधायक अनवर का समर्थन करते हैं. तो वह बहुमत हासिल कर लेंगे. अनवर को पहले से ही बोर्नियो द्वीप में तीन सीटों वाली एक छोटी पार्टी का समर्थन प्राप्त है. कुल मिलाकर, उन्हें 115 संसदीय सीटें मिलेंगी.

मुहिद्दीन के ब्लॉक में हार्ड-लाइन पैन-मलेशियाई इस्लामिक पार्टी शामिल है. जिसके पास 49 सीटें हैं. जो 2018 में जीती गई सीटों से दोगुनी से अधिक है. PAS के रूप में जाना जाता है. यह इस्लामिक शरिया कानून का समर्थन करता है. यह तीन राज्यों पर शासन करता है और अब सबसे बड़ी पार्टी है.

Leave a Reply