Andhra Pradesh में गैस लीक होने से 94 लोगों को अस्पताल में कराया गया भर्ती

Andhra Pradesh: आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम के नजदीक औद्योगिक क्षेत्र में गैस के रिसाव से 94 लोगों के बीमार होने की खबर सामने आई है. इन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है. आंध्र प्रदेश के अचुतापुरम जिले में ब्रैंडिक्स स्पेशल इकोनॉमिक जोन (SEZ) में एक परिधान निर्माण इकाई में मंगलवार को एक संदिग्ध गैस रिसाव से हड़कंप मच गया.

गैस लीक से मचा हड़कंप

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के अचुतापुरम जिले में मंगलवार को एक बार फिर जहरीली गैस के रिसाव से हड़कंप मच गया. रिपोर्टों के मुताबिक ब्रैंडिक्स स्पेशल इकोनॉमिक जोन में एक कपड़ा निर्माण इकाई में संदिग्ध गैस रिसाव के कारण महिलाएं बीमार पड़ गईं.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, 53 लोगों को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि 41 का इलाज जिले के कई अन्य अस्पतालों में चल रहा है. लीकेज के कारण कई मरीजों ने सांस लेने में दिक्कत, जी मिचलाना और उल्टी की शिकायत की जिसके बाद उन्हें तुरंत सरकारी अस्पताल ले जाया गया.

बता दें की, अचुतापुरम इलाके में विशेष आर्थिक क्षेत्र (एसईजेड) में एक बीज परिधान निर्माण कंपनी में गैस रिसाव की सूचना मिली थी. दो महीने में इस तरह की यह दूसरी घटना है. हालाँकि, अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है और पीड़ितों की हालत स्थिर है.

इसके पहले भी हो चुगा है ऐसा

जानकारी के लिए बता दें की, यह कोई पहला मामला नहीं है. आंध्र प्रदेश के ऐलुरु के अक्किरेड्डीगुडेम में एक केमिकल फैक्ट्री में गैस रिसाव के कारण आग लग गई थी. बता दें की, आंध्र प्रदेश की केमिकल फैक्ट्री में जिन चार मजदूरों की मौत हुई थी. उसमें से दो मजदूर कारू रविदास और सुभाष रविदास चंडी प्रखंड के हबीबुल्लाह चक गांव के रहने वाले थे.

जानकारी के मुताबिक, यह हादसा बहुत ज्यादा ही खतरनाक था. इसके अलावा कई और हादसे भी हुए हैं. हालही में खबर आई थी, की जौनपुर में महाराजगंज के केवटली गांव में सुबह घरेलू गैस सिलेंडर के रिसाव से बड़ा हादसा हो गया था.

इस घटना ने लोगों की नींद उड़ा दी थीं. मामला यह था की, दूध गर्म करते समय आग लगने से पति-पत्नी और उनके दो बच्चों समेत पांच लोग झुलस गए थे. घटना से परिवार में कोहराम मच गया. अस्पताल में भर्ती करने के बाद पता चला की, तीन लोगों की मौत हो गई है.

यह था दुनिया का सबसे बड़ा गैस हादसा

3 दिसंबर 1984 को हुआ भोपाल गैस कांड दुनिया का सबसे बड़ा गैस कांड हुआ था. इस घटना ने सभी को झकझोर कर रख दिया था. बता दें की इस हादसे से कई लोग प्रभावित हुए और हजारों लोग मर गए थे.

भोपाल में 3 दिसंबर 1984 की दरम्यानी रात में यूनियन कार्बाइड फैक्ट्री से हुई गैस के रिसाव से हजारों लोगों की मौत हो गई थी. उस रात से शुरू हुआ मौतों का सिलसिला और बरसों से होते हुआ आज भी जारी है.

जानकार कहते हैं की,  37 साल भी जिम्मेदारों ने इस घटना से कोई सबक नहीं लिया और आज भी देश के कई हिस्सों में गैस के कई कांड हुए है. अधिकारिक रिपोर्ट्स के अनुसार, महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) में हाल ही में एक के बाद एक गैस कांड हुए जिनमें कई लोगों की जान चली गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.