Amazon के कर्मचारियों ने Black Friday पर वेतन की मांग को लेकर 40 देशों में किया प्रोटेस्ट

Amazon: लगभग 40 देशों में अमेज़न (Amazon) के हजारों वेयरहाउस कर्मचारियों ने ऑनलाइन शॉपिंग के लिए वर्ष के सबसे व्यस्त दिनों में से एक, ब्लैक फ्राइडे की बिक्री के साथ मेल खाने के लिए विरोध और वाकआउट में भाग लेने की योजना बनाई है.

Amazon के कर्मचारी कर रहे प्रोटेस्ट

NDTV से मिली जानकारी के मुताबिक, अमेज़न (Amazon) के कर्मचारियों और उनके समर्थकों ने रिटेल दिग्गज की श्रम नीतियों के विरोध में दर्जनों देशों में रैली कर रहें हैं. जर्मनी और फ्रांस से संयुक्त राज्य अमेरिका तक, भारत से जापान और यूनाइटेड किंगडम तक, अमेज़ॅन के कर्मचारियों ने बेहतर काम करने की स्थिति और उचित तनख्वाह की मांग करते हुए शुक्रवार को अपना काम बंद कर दिया. और मार्च में शामिल हो गए.

पर्यावरण और नागरिक समाज समूहों के समर्थन के साथ अभियान की तैयारी ट्रेड यूनियनों के एक अंतरराष्ट्रीय गठबंधन द्वारा किया जा रहा है. बता दें की, कार्रवाई वर्ष के सबसे व्यस्त खरीदारी दिनों में से एक ब्लैक फ्राइडे के साथ हुई है.

30 से ज्यादा देशों में हो रहा है प्रदर्शन

बताया जा रहा है की, कहा कि 30 से अधिक देशों में औद्योगिक कार्रवाई और विरोध प्रदर्शन हुए है. जर्मनी में, देश में अमेज़न के 20 ऑफिस में से नौ में प्रदर्शन हुए हैं. हालाँकि शुक्रवार की सुबह कंपनी ने कहा कि देश में उसके अधिकांश कर्मचारी सामान्य रूप से काम कर रहे हैं.

Amazon के कर्मचारियों ने Black Friday पर वेतन की मांग को लेकर 40 देशों में किया प्रोटेस्ट
Amazon के कर्मचारियों ने Black Friday पर वेतन की मांग को लेकर 40 देशों में किया प्रोटेस्ट

वर्डी यूनियन, जिसने जर्मनी में हड़तालों का आह्वान किया है. उन्होंने मांग की कि कंपनी खुदरा और मेल-ऑर्डर व्यापार क्षेत्र के लिए सामूहिक सौदेबाजी समझौते को मान्यता दे. ब्लूमबर्ग के रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका, ब्रिटेन, भारत, जापान, ऑस्ट्रेलिया, साउथ अफ्रीका के साथ यूरोप के कई देशों में अमेजन के हजारों कर्मचारी बेहतर वेतन और कमरतोड़ महंगाई के चलते कॉस्ट ऑफ लिविंग क्राइसिस के मद्देनजर काम करने के लिए उचित माहौल  की मांग को लेकर प्रदर्शन करने जा रहे हैं.

वेतन है बहुत कम

जर्मनी में अमेज़न (Amazon) के एक प्रवक्ता ने कहा कि “कंपनी अच्छे वेतन, लाभ और विकास के अवसरों की पेशकश करती है लेकिन फिर भी लोग इससे खुश नहीं हैं.” अन्य बातों के अलावा, प्रवक्ता ने सितंबर से जर्मनी के अमेज़ॅन लॉजिस्टिक्स कर्मचारियों के लिए वेतन वृद्धि की ओर इशारा किया. जिसमें शुरुआती वेतन अब 13 यूरो प्रति घंटे या उससे अधिक है. जिसमें बोनस भुगतान भी शामिल है.

जर्मनी में दशकों में 10 प्रतिशत से अधिक की उच्चतम दर पर मुद्रास्फीति के साथ, कोब्लेंज़ में वर्डी के एक प्रवक्ता ने हालिया वेतन वृद्धि को लेकर कहा की, “यह वेतन वृद्धि को लेकर ऐसा लगता है की जैसे बाल्टी में एक बूंद.”

Amazon के प्रवक्ता ने कहीं ये बाते

देश विदेश में चल रहे मामले को मद्देनज़र रखते हुए अमेज़ॅन (Amazon) के प्रवक्ता डेविड नीबर्ग ने कहा की, ” हम किसी भी क्षेत्र में परिपूर्ण नहीं हैं. यदि आप निष्पक्ष रूप से देखते हैं कि अमेज़ॅन इन महत्वपूर्ण मामलों पर क्या कर रहा है. तो आप देखेंगे कि हम अपनी भूमिका और हमारे प्रभाव को बहुत गंभीरता से लेते हैं.”

उन्होंने 2040 तक शुद्ध शून्य ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन तक पहुंचने के लिए कंपनी के लक्ष्य का हवाला दिया और कहा कि यह कंपनी वेतन और महान लाभ प्रदान करना जारी रखेगी. और कंपनी अपने कर्मचारियों को सुरक्षित और स्वस्थ रखने के लिए नए तरीके खोज रही है.”

 

Leave a Reply