September 26, 2022
Israel: 15 साल बाद फिर से अब इसरायल की एयरलाइंस शुरू करेंगी तुर्की के लिए उड़ान सेवा

Israel: 15 साल बाद फिर से अब इसरायल की एयरलाइंस शुरू करेंगी तुर्की के लिए उड़ान सेवा

Spread the love

तेल अवीव (Israel) 8 जुलाई : इजरायल सरकार ने गुरुवार को बताया कि 15 साल के निलंबन के बाद इज़राइली एयरलाइंस तुर्की के लिए उड़ानें फिर से शुरू करने के लिए तैयार हैं।

Israel और Turkey ने समझौते पर किये हस्ताक्षर

इजरायल (Israel) के परिवहन मंत्री मेराव माइकली और इजरायल के विदेश मंत्रालय ने अलग – अलग बयान जारी कर बताया कि दोनों देशों के बीच एक विमानन समझौते के तहत दोनों देशों के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण इजरायल की कंपनियों को तुर्की के विभिन्न गंतव्यों के लिए उड़ानों को फिर से शुरू करने की अनुमति देते हैं |

इज़राइली एयरलाइंस ने 15 साल पहले सुरक्षा प्रतिबंधों के कारण तुर्की के लिए उड़ानें रोक दी थीं, जिसमें होने वाला उनका उच्च खर्च भी शामिल था।
जिसके बाद से केवल तुर्की (Turkey) की प्रमुख कंपनियां तुर्की एयरलाइंस और पेगासस एयरलाइंस ही दोनों देशों के बीच उड़ान भरती थी।

इस समझौते से दोनों देशों के रिश्ते होंगे मजबूत

इजरायल (Israel) के परिवहन मंत्री मेराव माइकली ने कहा कि “नया समझौता दोनों देशों के बीच विमानन संबंधों को बढ़ावा देने में एक ऐतिहासिक कदम है और यह इसराइल और क्षेत्र के देशों के बीच आर्थिक और रणनीतिक संबंधों को मजबूत करने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम है।”

इजराइल से तुर्की आने – जाने वाले यात्रियों की संख्या लाखों में है इस नए समझौते से लोगों बड़ी सहूलियत मिलेगी | इज़राइल एयरपोर्ट अथॉरिटी के आंकड़ों के अनुसार, 2022 की पहली छमाही में, 5 लाख से अधिक यात्रियों को ले जाने वाली तुर्की एयरलाइंस, इज़राइल से आने – जाने वाले यात्रियों की संख्या के आधार पर तीसरे स्थान पर थी।

पिछले कई वर्षों के तनाव के बाद पिछले महीनों में इज़राइल (Israel) और तुर्की के बीच संबंधों में बड़ा सुधर हुआ है | मार्च की शुरुआत में, इजरायल के राष्ट्रपति इसहाक हर्ज़ोग (Isaac Herzog) ने तुर्की की राजधानी अंकारा का दौरा किया और राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगान (Recep Tayyip Erdogan) से मुलाकात की थी | जिसके बाद में, दोनों देशों के विदेश मंत्रियों ने भी एक दूसरे देशों की यात्रा की थी |

इसी हफ्ते की शुरुआत में, इजरायल की अर्थव्यवस्था मंत्री ओर्ना बारबिवे (Orna Barbiev) ने तुर्की में इजरायल के आर्थिक और व्यापार मिशन कार्यालय को फिर से खोलने की घोषणा भी की है |

अपनी खस्ता अर्थव्यवस्था के कारण तुर्की सुधार रहा है रिश्ते

पिछले 1-2 सालों में तुर्की की अर्थव्यवस्था कुछ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही है , जिसके कारण देश में महंगाई दर दुनिया में सबसे अधिक में से है | राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगान (Recep Tayyip Erdogan) की नीतियों के कारण तुर्की अपने पडोसी देशों से दूर होता जा रहा था | तुर्की की मुद्रा लीरा में भी रिकॉर्ड स्तर की गिरावट देखी गयी है | इन सभी परेशानियों को दूर करने के लिए राष्ट्रपति एर्दोगान ने अपनी नीतियों में बड़ा बदलाव किया है |

एर्दोगान ने लगभग 10 वर्षों के बाद अपना सयुक्त अरब अमीरात का दौरा किया जिसके बाद वह सऊदी अरब के दौरे पर भी गए | इन सभी दौरों का मक़सद तुर्की में इन्वस्टमेंट लाना था |

कोरोना महामारी से पहले तुर्की ईरान और मलेशिया के साथ मिलकर सऊदी अरब की जगह इस्लामिक दुनिया का नया केंद्र बनाना चाहता था परन्तु ख़राब माली हालत ने एर्दोगान (Recep Tayyip Erdogan) के इस सपने को दूर कर दिया है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.