September 25, 2022
Afghanistan-Kabul: काबुल में हुआ बड़ा बम धमाका, 20 से ज्यादा लोगों की मारे जाने की आशंका

Afghanistan-Kabul: काबुल में हुआ बड़ा बम धमाका, 20 से ज्यादा लोगों की मारे जाने की आशंका

Spread the love

Afghanistan-Kabul:  तालिबान के अफगानिस्तान (Afghanistan-Kabul ) पर नियंत्रण हासिल करने की पहली बरसी के कुछ दिनों बाद, राजधानी काबुल में एक बड़ा विस्फोट हुआ. कथित तौर पर, शाम की नमाज के दौरान शहर के 17वें सुरक्षा जिले में एक मस्जिद में बम विस्फोट हुआ.

कई लोगों के हताहत होने की है खबर

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, कई लोगों के हताहत होने की खबर है. काबुल पुलिस (Afghanistan-Kabul) के प्रवक्ता खालिद जादरान ने एजेंसियों के हवाले से कहा, “मस्जिद के अंदर एक विस्फोट हुआ. विस्फोट में हताहत हुए हैं, लेकिन संख्या अभी स्पष्ट नहीं है.”

पीड़ितों को आपातकालीन सेवाएं प्रदान करने वाले एक व्यक्ति ट्विटर पर सूचित किया, “पीडी17 क्षेत्र में एक विस्फोट के बाद अब तक हमारे अस्पताल में 27 लोग प्राप्त हुए हैं. उनमें से 7 साल के बच्चे सहित 5 बच्चे हैं.”

रॉयटर्स ने दावा किया कि विस्फोट में मारे गए लोगों में आमिर मोहम्मद काबुली नाम का मस्जिद का इमाम भी शामिल है. अफगान सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीर वायरल हो रही है. प्रकाशन ने आगे कहा कि विस्फोट में 35 लोग मारे गए या घायल हो सकते हैं. इस बीच, अल-जज़ीरा ने दावा किया कि हमले में 20 लोग मारे गए हैं.

एक अफगान न्यूज आउटलेट टोलो न्यूज के अनुसार, जिसने पीडी13 के कमांडर अब्दुल रहमान नफाय से बात की, विस्फोट के लिए विस्फोटक एक मोटरसाइकिल में रखे गए थे. जांच और बचाव एजेंसियां ​​मौके पर पहुंच गई हैं. हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि हमले को किस आतंकी संगठन ने अंजाम दिया.

प्रमुख अफगान मौलवी को उतारा था मौत के घाट

अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, यह ध्यान देने योग्य है कि पिछले सप्ताह रहीमुल्ला हक्कानी नामक एक प्रमुख अफगान मौलवी, जिसने महिला शिक्षा का समर्थन किया था. तभी एक आत्मघाती बम हमले में मारे गए थे. उस वक्त इस्लामिक स्टेट (IS) ने हमले की जिम्मेदारी ली थी.

तालिबान के एक अधिकारी ने बाद में कहा, “यह अफगानिस्तान के इस्लामी अमीरात के लिए एक बहुत बड़ी क्षति है.” इसके पहले अफगानिस्तान में मजार-ए-शरीफ की एक मस्जिद में बम धमाके की खबर आई थी.  मजार-ए-शरीफ की मशहूर मस्जिद सेह डेकन भीड़भाड़ वाले इलाके में स्थित थी और यहीं पर यह धमाका हुआ. इसके अलावा तीन अन्य जगहों (नंगरहार, काबुल और कुंदुज ) पर भी बम धमाके हुए थे.

अफगानिस्तान में अब ये बन धमाके आम हो गए हैं. लोगों को आए दिन ऐसे बम धमाकों का सामना करना पड़ता है. तालिबान के कब्ज़े के बाद से अफगानिस्तान में ऐसे मामलों की बढ़ोतरी हुई है.

एंजेलिना जोली ने तालिबान से ली थी सीधी टक्कर

जानकारी के लिए बता दें की, अपने मानवीय कार्यों के लिए जानी जाने वाली हॉलीवुड स्टार एंजेलिना जोली (Angelina Jolie) चाहती हैं कि तालिबान शासित अफगानिस्तान (Afghanistan) में महिलाओं के साथ क्या हो रहा है, इस पर दुनिया संज्ञान ले. ‘गर्ल, इंटरप्टेड’ स्टार ने हाल ही में ‘टाइम’ पत्रिका में एक ऑप-एड में लिखा, जहां उन्होंने रोम में एक अफगान शरणार्थी महिला से मिलने के अपने अनुभव को याद किया.

ऐसा बताया जाता है की जब से तालिबान का राज़ अफगानिस्तान में हुआ है, तबसे अफगानिस्तान में महिलाओं पर जुर्म बढ़ गया है. जिसके चलते दुनिया भर अफगानिस्तान की महिलाओं पर लोगो ने चिंता जताई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.