देश के सबसे अमीर शख्स गौतम अदाणी के अदाणी समूह ने रविवार को कहा कि उसने होल्सिम लिमिटेड के भारत में कारोबार की नियंत्रण प्रदान करने वाली हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने के लिए एक सौदा किया है। यह सौदा 10.5 अरब डॉलर (813 अरब 60 करोड़ 82 लाख 50 हजार रुपये) में हुआ है। इस डील के साथ बंदरगाह और एयरपोर्ट से लेकर एनर्जी के क्षेत्र में काम करने वाले अडानी समूह का सीमेंट व्यापार के क्षेत्र में भी प्रवेश हो गया है।

पिछले कुछ वर्षों में अदाणी समूह ने बंदरगाह परिचालन, बिजली संयंत्रों और कोयला खदानों के अपने मूल कारोबार से हटकर हवाई अड्डों, डाटा केंद्रों और सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भी काम बढ़ाया है।

अदाणी समूह ने पिछले साल ही दो सीमेंट सब्सिडियरी शुरू की थी , ये दो सब्सिडियरी अदाणी सीमेंटेशन लिमिटेड और अदाणी सीमेंट लिमिटेड थीं। इसमें से अदाणी सीमेंटेशन लिमिटेड गुजरात के दहेज में औऱ अदाणी सीमेंट लिमिटेड महाराष्ट्र के रायगढ़ में सीमेंट की दो इकाइयां बनाने की योजना बना रही थी।

अडानी समूह बना घरेलू सीमेंट उद्योग के क्षेत्र में दूसरा सबसे बड़ा खिलाड़ी –

यह सौदा गौतम अदाणी के अदाणी समूह को घरेलू सीमेंट क्षेत्र में दूसरा सबसे बड़ा कारोबारी समूह बना देगा, जिसने होल्सिम लिमिटेड की दो भारतीय स्टेप-डाउन फर्मों ACC लिमिटेड और अंबुजा सीमेंट का संयुक्त नियंत्रण हासिल कर लिया है।

इस अहम सौदे को देश के इंफ्रास्ट्रक्चर मैटेरियल के क्षेत्र में सबसे बड़ा अधिग्रहण बताया जा रहा है। इसी सौदे को लेकर गौतम अदाणी पिछले सप्ताह अबुधाबी और लंदन गए थे। होल्सिम लिमिटेड स्विट्जरलैंड की बिल्डिंग मैटेरियल कंपनी है। इस समझौते को लेकर गौतम अदाणी ने कहा कि होल्सिम लिमिटेड की सीमेंट कंपनियों को हमारी ग्रीन एनर्जी और लॉजिस्टिक्स कंपनी के साथ मिलाने से ये हमें दुनिया की सबसे ग्रीन सीमेंट कंपनी बना देगी।

By Satyam

Leave a Reply