सोमालिया

संयुक्त राष्ट्र (United Nation) ने मंगलवार को कहा कि पूर्वी अफ्रीकी देश सोमालिया (Somalia) में मानवीय सहायता और सुरक्षा की आवश्यकता वाले लोगों की कुल संख्या 2021 में 59 लाख से बढ़कर 77 लाख हो गई है। मानवीय मामलों के समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (OCHA) ने कहा कि लगातार कम होती बारिश के कारण सोमालिया के कई हिस्सों में सूखे की समस्या उत्पन्न हुयी है जिसने बहुत से लोगों की जान ले ली है।

OCHA ने मानवीय फण्ड आवंटन पर अपनी नवीनतम रिपोर्ट में कहा, “प्रभावित लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है, और विस्थापित परिवार जीवन के लिए खतरनाक स्तर की ओर बढ़ रहे हैं।”

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, गंभीर सूखा दशकों के लंबे संघर्ष और असुरक्षा, जलवायु में तेजी से बदलाव और बीमारी के प्रकोप के कारण गंभीर कमजोरियों और मानवीय सहायता की जरूरतों को बढ़ा रहा है।

सूखे उत्पन्न हो रही है गंभीर समस्याए

OCHA ने कहा कि 25 मिलियन अमेरिकी डॉलर का मानक आवंटन सूखे से गंभीर रूप से प्रभावित समुदायों के प्रमुख हॉटस्पॉट स्थानों में तत्काल सहायता प्रदान करेगा, विशेष रूप उन स्थानों में जो दुर्गम क्षेत्रों में स्थित और सुविधाएं न के बराबर है |

संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि सोमालिया में हजारों बच्चे स्कूल छोड़ चुके हैं क्योंकि उनके माता-पिता अब फीस का भुगतान नहीं कर सकते हैं | वहां खाद्य असुरक्षा बढ़ रही है और सूखा प्रभावित क्षेत्रों में कुपोषण भी अधिक है।

चीन का मुकाबला करने के उद्देश्य से जो बाइडन के इंडो-पैसिफिक आर्थिक ढांचे में शामिल होगा फिजी

लाखों बच्चों के मरने का खतरा

संयुक्त राष्ट्र के सोमालिया में मानवीय समन्वयक एडम अब्देलमौला कहते हैं, अगर हम अपनी सहायता को नहीं बढ़ाते है तो जून के महीने के अंत से पहले कम से कम 370,000 बच्चों सहित कई लोग मर जाएंगे।”

सूखे की समस्यांए बढ़ती जा रही है जिसका कारण लगातार पांचवी वर्षा ऋतु में बारिश का न होना है | सोमालिया में पानी, भोजन और चारागाह की तलाश में लगभग 771,400 लोग विस्थापित हुए हैं, जिनमें अधिकांश महिलाएं और बच्चे हैं।

By Satyam

Leave a Reply