Maldives में हुआ बड़ा हादसा, 9 भारतीय की आगे से झुलसकर हुई मौत

Maldives: मालदीव (Maldives) की राजधानी माले में गुरुवार को विदेशी कामगारों के घरों में आग लगने से कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए है. बताया जा रहा है की, मालदीव (Maldives) में मरने वालों में 9 भारतीय भी हैं. भारतीयों की लिए तो वैसे एक फेमस टूरिस्ट स्पॉट है. लेकिन यहीं पर 9 भारतीय कामगारों की दर्दनाक मौत हो गई.

Maldives में मरने वालों में भारतीयों की संख्या है ज्यादा

समाचार एजेंसी से मिली जानकारी के मुताबिक, अधिकारियों ने कहा कि आग में जली हुई एक इमारत की ऊपरी मंजिल से 10 शव बरामद किए गए हैं.  जिसमें से 9 शव भारतीयों के हैं. अधिकारिक जानकारी के मुताबिक, आग इमारत के ग्राउंड फ्लोर के कार रिपेयरिंग गैराज में लगी थी.

Maldives में हुआ बड़ा हादसा, 9 भारतीय की आगे से झुलसकर हुई मौत
Maldives में हुआ बड़ा हादसा, 9 भारतीय की आगे से झुलसकर हुई मौत

ट्वीटर पर ट्वीट करते हुए मालदीव (Maldives) के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने कहा है कि “खतरनाक आग की घटना की जांच का आदेश दिया गया है.” इतना ही नहीं बल्कि, मालदीव में भारतीय उच्चायोग ने भीषण आग में जान गंवाने वालों पर शोक व्यक्त किया है. उच्चायोग के एक ट्वीट में कहा गया है की,  “हम माले में हुई दुखद आग की घटना से बहुत दुखी हैं. जिसमें कथित तौर पर भारतीय नागरिकों सहित कई लोगों की जान गई है. हम मालदीव के अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में हैं.”

Maldives में भारतीय उच्चायोग का अधिकारिक ट्वीट…

श्रमिकों की हालत मालदीव में है ख़राब

मालदीव (Maldives) के राजनीतिक दलों ने पहले विदेशी श्रमिकों के लिए रहने की स्थिति की आलोचना की है. श्रमिकों बारे में माना जाता है कि वे माले की 250,000-मजबूत आबादी का लगभग आधा हिस्सा हैं. और श्रमिकों में ज्यादातर बांग्लादेश, भारत, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका से हैं.

कोविड -19 महामारी के दौरान उनके खराब रहने की स्थिति को उजागर किया गया था. क्योंकि कोरोना महामारी वहां की श्रमिकों में ज्यादा तेज़ी से फैली थी. आगे बता दें की, मालदीव सरकार के एक उच्च अधिकारी ने बताया कि, “पुलिस मृतकों की पहचान करने में जुटी हुई है. साथ ही पीड़ितों की मदद के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है.”

मालदीव के राष्ट्रपति ने व्यक्त कि संवेदना

मालदीव (Maldives) के राष्ट्रपति ने कहा है की, ““कल शहर में लगी खतरनाक आग की घटना एक बहुत ही दुखद घटना है. कई लोगों की जान जा चुकी है और बड़ी संख्या में लोग घायल हुए हैं. फिलहाल घटना की जांच की जा रही है. मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है. ”

मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने भी माले में आग की घटना के पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

अब्दुल्ला शाहिद ने ट्वीट किया है की, “माले में भीषण आग की खबर से गहरा दुख हुआ’, जिसने 10 प्रवासी श्रमिकों की जान ले ली और कई परिवार प्रभावित हुए हैं. हमारी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं मृतकों और प्रभावितों के परिवारों के साथ हैं. पूरी जांच चल रही है.” बता दें की, मालदीव के नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने ट्वीट कर बताया कि माले में लगी इस आग के प्रभावितों के लिए एक स्टेडियम में राहत एवं बचाव केंद्र बनाया गया है.

 

Leave a Reply