Pakistan में मचा हड़कंप, पंजाब में अस्पताल की छत पर मिलीं 400 सड़ी-गली लाशें

Pakistan: पाकिस्तान (Pakistan) के पंजाब प्रांत में शुक्रवार को एक सार्वजनिक क्षेत्र के अस्पताल की छत पर कम से कम 400 सड़े-गले शव मिले है. जानकारी के अनुसार, मुल्तान में निश्तार अस्पताल के मुर्दाघर की छत से शव बरामद किए गए हैं. जिसके बाद सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं.

Pakistan में मिले सड़े-गले शव

ANI से मिली जानकारी के मुताबिक, पाकिस्तान (Pakistan) के मुल्तान शहर से एक खौफनाक मंजर सामने आया है. मुल्तान शहर में स्थित एक अस्पताल की छत पर कम से कम 200 सड़ी-गली लाशें मिली हैं. जिससे पूरे पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है. सोशल मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया है कि छत से मानव शरीर के सैकड़ों अंग भी बरामद किए गए हैं.

शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में कई शवों को बुरी हालत में छत पर फेंके हुए दिखाया गया है. इसके बाद अफवाहें उड़ीं कि शवों को चील और गिद्धों के चारे के रूप में इस्तेमाल करने के लिए छत पर रखा गया था. सोशल मीडिया पर बलोच क्रांतिकारी दावा कर रहे हैं कि ये उनके लापता लोगों के शव हो सकते हैं.

Pakistan में मचा हड़कंप, अस्पताल की छत पर मिलीं 200 सड़ी-गली लाशें
Pakistan में मचा हड़कंप, अस्पताल की छत पर मिलीं 200 सड़ी-गली लाशें

इस बीच, पाकिस्तान (Pakistan) पंजाब के मुख्यमंत्री परवेज इलाही ने शुक्रवार को इस घटना का कड़ा संज्ञान लिया और मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन किया है. विशेष स्वास्थ्य सचिव मुजमिल बशीर की अध्यक्षता वाली छह सदस्यीय समिति को जांच पूरी करने और जिम्मेदारी तय करने के लिए तीन दिन का समय दिया गया है.

मुख्यमंत्री के सलाहकार चौधरी जमान गुर्जर ने गुरुवार को लाहौर से करीब 350 किलोमीटर दूर मुल्तान के निश्तर अस्पताल का दौरा किया. समाचार एजेंसी एएनआई ने जियो न्यूज के हवाले से बताया कि मुख्यमंत्री के सलाहकार चौधरी जमान गुर्जर ने कहा कि एक व्हिसलब्लोअर (whistleblower) ने उन्हें निश्तार अस्पताल के मुर्दाघर की छत पर सड़ रहे शवों के बारे में बताया.

मुख्यमंत्री के सलाहकार ने कहीं ये बातें

पंजाब के मुख्यमंत्री के सलाहकार चौधरी जमान गुर्जर ने अपने बयान में कहा की, “मैं निश्तार अस्पताल में दौरे पर था. तभी एक व्यक्ति मेरे पास आया और कहा कि अगर आप अच्छा काम करना चाहते हो तो मुर्दाघर जाओ और उसकी जांच करो.”

उन्होंने आगे कहा कि जब वह वहां पहुंचे तो कर्मचारी दरवाजा खोलने को तैयार नहीं थे. गुर्जर ने कहा की, “इस पर मैंने कहा कि अगर आप इसे अभी नहीं खोलते हैं. तो मैं आपके खिलाफ FIR दर्ज करने जा रहा हूं.” उन्होंने कहा कि जब मुर्दाघर खोला गया और उन्होंने अंदर कदम रखा तो उन्हें कम से कम 200 शव पड़े मिले.

मेडिकल छात्रों के शैक्षिक उद्देश्यों के लिए लाए गए थे शव

चौधरी जमान गुर्जर ने बताया की, “सभी सड़ने वाले शरीर पुरुषों और महिलाओं दोनों के थे. यहां तक ​​कि महिलाओं के शरीर भी ढके नहीं थे.” गुर्जर ने कहा कि जब उन्होंने डॉक्टरों से यह बताने के लिए कहा कि क्या चल रहा है तो उन्होंने कहा कि इनका इस्तेमाल मेडिकल छात्रों ने शैक्षिक उद्देश्यों के लिए किया था.

क्या आप इन शवों को बेचते हैं? मैंने मुर्दाघर के अधिकारियों से पूछा. रिपोर्ट में कहा गया है कि गुर्जर ने कहा कि उन्होंने डॉक्टरों से घटना की व्याख्या करने के लिए कहा. चौधरी जमान गुर्जर ने कहा की इन शवों की हालत देखकर लगता नहीं है की, यह मेडिकल छात्रों ने शैक्षिक उद्देश्यों के लिए लाए गए हैं.

 

Leave a Reply